एक अनार सौ बीमार, लेकिन पार्टी का मूड कुछ और ही

गर्मा चुकी है जालंधर वैस्ट की सियासत

एक अनार सौ बीमार, लेकिन पार्टी का मूड कुछ और ही

बीते दिनी पंजाब की जालंधर वैस्ट की सीट से विधायक पद् के चुनाव घोषित होने के बाद से ही जालंधर वैस्ट की सियासत पूरी तरह से गर्मा चुकी है। अगर इस हलके से देखा ज़ाए तो कांग्रेस को काफी मुश्किल का सामना करना पड़ सकता है कारण कि सुशील रिंकू के कांग्रेस छोड़े ज़ाने के बाद से ही उक्त हलका कांग्रेस के लिए खाली पड़ा हुआ है हालांकि लोकसभा चुनाव में सुशील रिंकू का राईट हैंड रहे अश्वनी जंगराल़ ने बाखूबी इस हलके को संभाला लेकिन अब आलम एक अनार सौ बीमार वाला हो चुका है।

 

 

कारण कि सूत्रों की मानें तो करीब 15 कांग्रेसी नेताओं ने टिकट के लिए दावेदारी पार्टी हाईकमान के पास भेज़ दी है। जिनमें से आधी दर्जन के करीब पूर्व पार्षद भी शामिल है।

 

लेकिन वहीं दूसरी और पार्टी सूत्रों की मानें तो पार्टी हाईकमान ने उपचुनाव में किस नेता को मैदान में ऊतारना है उस बाबत पार्टी हाईकमान अपना मन बना बैठा है। सूत्रों की मानें तो इन 15 दवोदारों में से एक वरिष्ठ महिला कांग्रेसी नेत्री जोकि एक नगर निगम में एक ऊंचे पद् पर रहकर भी कांग्रेस की रहनुमाई कर चुकी है को मैदान में ऊतार सकती है। जिसकी घोषणा जल्द ही कांग्रेस हाईकमान द्वारा की ज़ाने वाली है।