भाज़पा को होशियारपुर में झटका लगना लगभग तय, किसी समय भी हो सकता धमाका

बाजवा के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री चन्नी पहुंचे अरोड़ा के घर

भाज़पा को होशियारपुर में झटका लगना लगभग तय, किसी समय भी हो सकता धमाका

होशियारपुर में भाज़पा को झटका लगना अब लगभग तय ही हो गया है कारण कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रताप बाज़वा के बाद अब जालंधर से नए नए सांसद बने और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री भी वीरवार की देर रात को होशियारपुर में श्याम सुंदर अरोड़ा के निवास पर पहुंच गए है।

 

 

जिससे अरोड़ा की कांग्रेस में ज़ाने की खबरें और पुख्ता हो गई है कि अरोड़ा का अब भाजपा छोड़कर कर वापस हाथ पकड़ना तय है। हालांकि चन्नी ने इसे अरोड़ा के साथ अपना पारिवारिक दौरा बताया, लेकिन राजनीति में इसके मायने यही हैं कि अरोड़ा कभी भी कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। क्योंकि दो दिन पहले विधानसभा में विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा भी अरोड़ा के घर आए थे। सूत्रों की माने तो अरोड़ा के कांग्रेस में जाने के लिए राजनीतिक रास्ता तैयार किया जा रहा है। क्योंकि अरोड़ा भी अपनी शर्तों के अनुसार घर वापसी करना चाह रहे हैं। इसी वजह से सीनियर नेता लगातार उनके संपर्क में हैं।

 

 

इसी कड़ी में पहले बाजवा आए और अब चन्नी। बता दे कि अरोड़ा इन दिनों भाजपा में घुटन महसूस कर रहे हैं। क्योंकि भाजपा से संबंधित पूर्व कैबिनेट मंत्री तीक्ष्ण सूद गुट से वैसे ही अरोड़ा की रास नहीं आ रही है ऊपर से तीस मई को होशियारपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में मंच पर जगह न मिलने से अरोड़ा और नाराज हो गए हैं। उसके बाद से ही अरोड़ा का कांग्रेस में वापसी का रास्ता तैयार होने लगा। बहुत जल्द अरोड़ा की घर वापसी हो सकती है। क्योंकि कांग्रेस को अरोड़ा के भाजपा में जाने के बाद उनकी कमी खल रही है।

 

 

वहीं इस बाबत जब चरनजीत चन्नी से बात की गईँ तो  चन्नी ने इसे अपना निजी दौरा बताया। जब उनसे पूछा गया कि अगर अरोड़ा पुनः कांग्रेस में आना चाहे तो। इस पर उन्होंने कहा कि इसके जैसे नेता को कौन नहीं लेना चाहेगा। चन्नी का इतना कहना ही बहुत कुछ इशारा कर गया।